28 C
Mumbai
Saturday, February 24, 2024

संयुक्त राष्ट्र की एक नई रिपोर्ट ने 2050 तक भारत की वृद्ध आबादी में तेजी से वृद्धि का पूर्वानुमान लगाया गया है

भारत की लगातार बढ़ती आबादी देश के लिए चिंता जनक है लेकिन आबादी नियंत्रण को लेकर भारत सरकार भले ना चिंतित हो लेकिन संयुक्त राष्ट्र की एक नई रिपोर्ट में 2050 तक भारत की वृद्ध आबादी में तेजी से वृद्धि का पूर्वानुमान लगाया लगाते हुए कहा है, जिसमें इस कमजोर समूह को स्वास्थ्य देखभाल को बेहतर ढंग से प्रबंधित करने और वित्तपोषित करने में मदद करने के लिए मजबूत विनियमन की आवश्यकता है।

1 जुलाई 2022 तक देश में 60 वर्ष और उससे अधिक आयु के लगभग 149 मिलियन लोग थे, जो जनसंख्या का 10.5% है। इंडिया एजिंग रिपोर्ट 2023 के अनुसार, हिस्सेदारी दोगुनी होकर 20.8% हो जाएगी और 2050 तक कुल संख्या 347 मिलियन हो जाएगी। वही दूसरे शब्दों में कहें तो 2050 तक हर पांच में से एक भारतीय बुजुर्ग हो जाएगा।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles