28 C
Mumbai
Saturday, February 24, 2024

केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी के इस्कॉन वाले बयान पर धार्मिक समूह ने 100 करोड़ का भेजा नोटिस

पिछले दिनों केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने धार्मिक संगठन इस्कॉन को लेकर जो बयान दिया था उस बयान के आधार पर संगठन ने मेनका गांधी को 100 करोड़ का नोटिस भेजा है।दरअसल, इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर कृष्णा कॉन्शियसनेस (इस्कॉन) ने भाजपा सांसद मेनका गांधी को उनके इस दावे के जवाब में 100 करोड़ रुपये का मानहानि नोटिस जारी किया है कि धार्मिक संगठन वध के लिए गायों को कसाई को बेचने में संलग्न है। इस्कॉन ने उनके आरोपों को पूरी तरह से निराधार बताया है और कहा है कि भक्तों को टिप्पणियों से गहरा दुख हुआ है।

इस्कॉन कोलकाता के उपाध्यक्ष राधारमण दास ने कहा, आज हमने इस्कॉन के खिलाफ पूरी तरह से निराधार आरोप लगाने के लिए मेनका गांधी को 100 करोड़ रुपये का मानहानि नोटिस भेजा है। इस्कॉन के भक्तों, समर्थकों और शुभचिंतकों का विश्वव्यापी समुदाय इन अपमानजनक, निंदनीय और दुर्भावनापूर्ण आरोपों से बहुत दुखी है। हम इस्कॉन के खिलाफ भ्रामक प्रचार के खिलाफ न्याय की खोज में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।

कुछ दिनों पहले वायरल हुए एक वीडियो में बीजेपी सांसद मेनका गांधी ने कहा था कि इस्कॉन देश का सबसे बड़ा धोखेबाज है, जो अपनी गौशालाओं से गायों को कसाइयों को बेचता है। भाजपा सांसद ने आरोप लगाया कि हाल ही में आंध्र प्रदेश में इस्कॉन गौशाला की यात्रा के दौरान उन्होंने पाया कि एक भी गाय अच्छी स्थिति में नहीं थी। मेनका गांधी ने कहा, गौशाला में कोई बछड़ा नहीं था, इसका मतलब है कि सभी को बेच दिया गया। इस्कॉन ने इन आरोपों को सख्ती से खारिज कर दिया और उन्हें अप्रमाणित और झूठा बताया।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles