7.8 C
New York
Friday, April 19, 2024

Buy now

spot_img

सीजेआई के बयान पर अतुल भटकलकर ने किया पलटवार।

मणिपुर में हुए दो महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने कहा की इस मामले में अगर सरकार कोई कार्रवाई नहीं करती तो हम करेंगे, सीजेआई डीवाई चंद्रचूड़ के इस बयान पर पलटवार करते हुए , मुंबई से बीजेपी के विधायक अतुल भटकलकर का बयान एक दिन बाद आया जिसमे कहा की, अगर सरकार का काम सुप्रीम कोर्ट को करना है तो कोर्ट को देश चलाना चाहिए. हमें चुनाव और संसद की जरूरत क्यों है? अगर कुर्सी पर बैठकर कानून-व्यवस्था का आदेश पारित किया जाएगा तो कैसे?” क्या देश सुचारू रूप से चलेगा।

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को कहा कि वह मणिपुर में दो महिलाओं को नग्न घुमाने के वीडियो से “गहरा परेशान” है। सीजेआई चंद्रचूड़ की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि यह “बिल्कुल अस्वीकार्य” है और केंद्र और राज्य सरकारों को तत्काल कार्रवाई करने और की गई कार्रवाई से उन्हें अवगत कराने का निर्देश दिया।

पीठ ने, जिसमें न्यायमूर्ति पीएस नरसिम्हा और न्यायमूर्ति मनोज मिश्रा भी शामिल थे, कहा, हम सरकार को कार्रवाई करने के लिए थोड़ा समय देंगे अन्यथा अगर जमीन पर कुछ नहीं हो रहा है तो हम कार्रवाई करेंगे। 4 मई का एक वीडियो बुधवार को सामने आने के बाद मणिपुर की पहाड़ियों में तनाव बढ़ गया, जिसमें एक युद्धरत समुदाय की दो महिलाओं को दूसरे पक्ष के कुछ पुरुषों द्वारा नग्न परेड करते हुए दिखाया गया है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles