29 C
Mumbai
Friday, February 23, 2024

ठाकुर नहीं होते तो हिंदुस्तान का नाम मुगलिस्तान होता,मनोज झा के बयान पर आया ठाकुर नेता का बयान

संसद में महिला आरक्षण बिल पर बोलते हुए आरजेडी सांसद मनोज झा के द्वारा दिए गए बयान को लेकर पार्टी के भीतर ही बवाल खड़ा हो गया है,जिसपर बाहुबली नेता आनंद मोहन ने आलोचना की है। इससे पहले बीजेपी विधायक बबलू ठाकुर ने कहा था कि अगर वो संसद में होते तो पटककर उनका मुंह तोड़ देते.वही आनंद मोहन ने कहा, महिला आरक्षण बिल पर चर्चा हो रही थी. कहीं पर निगाहें, कहीं पर निशाना. पूर्व सांसद ने मनोज झा पर हमला बोलते हुए कहा, आप अगर इतने ही बड़े समाजवादी हो तो झा क्यों लगाते हो? जिस सरनेम की आप आलोचना करते हैं पहले उसे तो छोड़कर आइए।

बाहुबली नेता ने कहा कि आप कहते हैं कि ठाकुर को मारो. आप ठाकुर को कहां-कहां से मारोगे. रामायण में ठाकुर, महाभारत में ठाकुर, दर्जनों-सैकड़ों कथावाचक 25 लाख से डेढ़ करोड़ रुपये लेकर इसी ठाकुर को जपकर पेट पालता है. उन्होंने कहा, मंदिरों में जहां तुम घंटी बजाते हो, शंख बजाते हो, वहां ठाकुर बैठे हुए हैं.

इससे पहले बीजेपी के विधायक नीरज बबलू ने कहा था कि अगर वो मेरे सामने बयान देते तो उन्हें पटककर उनका मुंह तोड़ देता. नीरज बबलू ने कहा, ”ठाकुरों ने देश की रक्षा की है. ठाकुर नहीं होते तो हिंदुस्तान का नाम मुगलिस्तान होता. मनोज झा राजद के कहने पर ऐसे बयान दे रहे हैं. अगर वे मेरे सामने ऐसा बयान देते, तो पटककर उनका मुंह तोड़ देता। मनोज झा के बयान पर आरजेडी के ही विधायक चेतन आनंद ने हमला बोला. उन्होंने कहा, ठाकुर समाज सभी को साथ लेकर चलता है और समाजवाद में किसी एक जाति को टारगेट करना समाजवाद के नाम पर दोगलापन है. ऐसे बयानों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

चेतन आनंद ने कहा, राज्यसभा में जब मनोज झा बोल रहे थे तो उन्होंने कविता के जरिए ठाकुर समाज को पूरी तरीके से विलेन के रूप में पेश किया. चेतन आनंद ने कहा कि मनोज झा के बयान से तेजस्वी यादव के राजद को A to Z की पार्टी बनाने के कदम को झटका लगा है. मनोज झा ब्राह्मण हैं इसीलिए उन्होंने ब्राह्मणों के खिलाफ किसी कविता का इस्तेमाल नहीं किया. हम लोग यह बर्दाश्त नहीं करेंगे. जिस समय मनोज झा राज्यसभा में यह टिप्पणी कर रहे थे, हम अगर उस समय सदन में होते तो वहीं धरने पर बैठ जाते और विरोध प्रदर्शन करते. यह दोगलापन बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

आरजेडी सांसद मनोज झा ने ओम प्रकाश वाल्मीकि की कविता को सुनाते हुए ठाकुरों का जिक्र किया था और अंदर के ठाकुर को मारने की अपील की थी. मनोज झा की इसी टिप्पणी को लेकर बाहुबली नेता आनंद मोहन समेत उनके विधायक बेटे चेतन आनंद ने मनोज झा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.वही मनोज झा के बयान को आरजेडी ने एक्स पर ट्वीट कर बयान को सही ठहराया है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles