23 C
Mumbai
Saturday, February 24, 2024

ग्रह मंत्री अमित शाह और इंडिजिनस ट्राइबल लीडर्स फोरम के बीच दिल्ली में होगी मीटिंग

बीते तीन महीने से पूरवर्ती राज्य मणिपुर में जातीय हिंसा हो रही है जिसको लेकर केंद्र व राज्य सरकारें हिंसा को रोकने के लिए हर संभव कोशिश कर रही है,परंतु अभी भी छिट पुट हिंसा राज्य में हो रही है इसी मामले पर मिजोरम के मुख्यमंत्री ज़ोरमथांगा ने इंडिजिनस ट्राइबल लीडर्स फोरम और ग्रह मंत्री अमित शाह के बीच दिल्ली में मीटिंग की व्यवस्था की है। दरअसल,मिजोरम के मुख्यमंत्री ज़ोरमथांगा ने कहा कि उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और इंडिजिनस ट्राइबल लीडर्स फोरम (आईटीएलएफ) के बीच एक बैठक की व्यवस्था की है। जातीय समूह केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से बातचीत के लिए तैयार हो गया है. द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक, बैठक 7 या 8 अगस्त को होने वाली है। ज़ोरमथांगा ने कहा कि यह बैठक मणिपुर के कुकी-ज़ो आदिवासी नेताओं के साथ सीधी बातचीत के लिए गृह मंत्री अमित शाह के अनुरोध पर हो रही है। मणिपुर से ताजा हिंसा की खबर सामने आने के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने बातचीत पर जोर दिया.

राज्य पिछले तीन महीनों से हिंसा की चपेट में है। ताजा हिंसा की घटनाएं सामने आने के बाद गृह मंत्रालय ने मणिपुर में केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) की लगभग दस अतिरिक्त कंपनियां तैनात कीं। गृह मंत्रालय (एमएचए) और रक्षा मंत्रालय ने 3 मई से शुरू हुई हिंसा के बाद क्षेत्र में लगभग 40,000 सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया है। 6 अगस्त को, मणिपुर में आगजनी के ताजा मामले में लगभग 15 घर जलकर राख हो गए।

मणिपुर पुलिस ने कहा कि सुरक्षा बलों ने अब तक राज्य भर से लूटे गए लगभग 1,200 हथियार और 14,000 से अधिक विभिन्न प्रकार के गोला-बारूद बरामद किए हैं। ऐसी खबरें थीं कि 3 मई को क्षेत्र में हिंसा भड़कने के बाद से हमलावरों और आतंकवादियों द्वारा पुलिस स्टेशनों से 4,000 से अधिक विभिन्न प्रकार के हथियार और लाखों गोला-बारूद लूट लिए गए थे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles