33 C
Mumbai
Tuesday, December 5, 2023

इसराइल और हमास के बीच चल रहे युद्ध में अब तक 2000 से ज्यादा लोगो की गई जान

फिलिस्तीन और इसराइल की लड़ाई इतिहास की सबसे बड़ी जंग है जिसमे लाखो नागरिकों की मौतें हो चुकी है वही हमेशा ही संयुक्त राष्ट्र टू स्टेट सॉल्यूशन की बात करता रहा है और दुनिया के अधिकांस देशों ने भी इस का समर्थन किया है परंतु इसराइल लगातार अंतराष्ट्रीय कानूनों का उलंघन करते हुए इल्लीगल सेटलमेंट करता रहा है जिसका खुला समर्थन पश्चिमी दुनिया और अमेरिका करता रहा है,वही 7 अक्टूबर, 2023 की सुबह इसराइली नागरिकों पर गाजा से हमास ने लगातार 5 हजार रॉकेट दाग कर कहर बरपा दिया जिसके बाद इसराइल ने जवाबी कार्येवाई कर पूरे गाजा को कब्रिस्तान में बदलने की मानो कसम खा ली है।वही इस लड़ाई में कई लोगो की जाने गई है, हमास और इजराइल के बीच चल रही युद्ध अब पांचवे दिन प्रवेश कर गई ,इस भीषण लड़ाई में मरने वालों की संख्या रातोंरात तेजी से बढ़ गई क्योंकि इजराइल ने सीमा के पास अंतिम समुदायों से मृतकों को बरामद करने के बाद गाजा पर बमबारी जारी रखी, जहां हमास के लड़ाके छिपे हुए थे।

इस युद्ध में मरने वालों की संख्या में दोनों पक्षों के कम से कम 2,100 लोगों की जान चली गई और कई अन्य घायल हो गए, पूरे देश में हवाई हमले के सायरन बजने लगे और भारी लड़ाई के एक नए दौर की संभावना बढ़ गई। इज़राइल ने गाजा पट्टी पर पूर्ण नाकाबंदी लगाते हुए उस पर पूर्ण कब्ज़ा करने की घोषणा की है, क्योंकि फ़िलिस्तीनी ‘एक और नकबा जीने’ के लिए तैयार हैं। अब एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हमास समूह इजराइल के साथ संघर्ष विराम वार्ता पर चर्चा के लिए तैयार है.

वही फिलिस्तीनी स्वास्थ विभाग ने बताया की गाजा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,055 हो गई, इज़राइल में यह बढ़कर 1,200 हो गई। वही इस लड़ाई के चलते गाजा में कुछ ही घंटों में बिजली ख़त्म हो जाएगी,गाजा के बिजली प्राधिकरण का कहना है कि इजराइल द्वारा आपूर्ति बंद करने के बाद उसके एकमात्र बिजली संयंत्र का ईंधन कुछ ही घंटों में खत्म हो जाएगा, जिससे क्षेत्र में बिजली नहीं रहेगी।

गाजा के सभी क्रॉसिंग बंद हैं, जिससे बिजली संयंत्र या जनरेटर के लिए ईंधन लाना असंभव हो गया है, जिस पर निवासी और अस्पताल लंबे समय से निर्भर हैं। इस लड़ाई के बीच लेबनान और इसराइल के बॉर्डर पर भी तनाव बढ़ गया है,जिसमे इसराइल के उत्तर क्षेत्र में सेना सिंह अलर्ट पर हो गई है,जहा हिजबुल्लाह ने कहा कि वह बुधवार को इजरायल पर सटीक मिसाइलें दागने के लिए जिम्मेदार था, उसने कहा कि यह इस सप्ताह इजरायली हमलों के जवाब में था जिसमें उसके तीन लड़ाके मारे गए थे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles