25 C
Mumbai
Thursday, February 22, 2024

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में संगठनात्मक बदलाव,अजय राय बने उत्तर प्रदेश के नए अध्यक्ष

अगले साल होने वाले आम चुनाव के लिए सभी राजनीतिक दलों ने कमर कस ली है और चुनाव के मद्देनजर रणनीति बनानी सुरु करदी है वही कहा जाता है की दिल्ली का रास्ता उत्तर प्रदेश से होकर गुजरता है जिसकी महत्ता लोकसभा चुनाव में बाकी राज्यों से कही अधिक है। देश की प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस ने भी राज्य को लेकर सतर्क हो चुकी है उसी क्रम में, कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश के लिए नेतृत्व में बदलाव किया है। पूर्व मंत्री और विधायक अजय राय को यूपी कांग्रेस का नया अध्यक्ष नियुक्त किया गया है. राय ने 2014 और 2019 दोनों आम चुनावों में कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में वाराणसी निर्वाचन क्षेत्र में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को चुनौती देकर प्रसिद्धि हासिल की।

यूपी में निवर्तमान अध्यक्ष बृजलाल खाबरी की जगह अजय राय को अध्यक्ष बनाने का फैसला गुरुवार को कांग्रेस आलाकमान ने किया। एक पत्र में, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल ने दिवंगत अध्यक्ष खाबरी की सेवाओं को स्वीकार किया और अजय राय को यूपी कांग्रेस के नए अध्यक्ष के रूप में पेश किया।

अजय राय का राजनीतिक कैरियर

2012 में कांग्रेस में शामिल होने से पहले अजय राय भारतीय जनता पार्टी और समाजवादी पार्टी से जुड़े थे। उन्होंने कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में वाराणसी की पिंडरा सीट से 2017 और 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ा था। वाराणसी में एक सुस्थापित कांग्रेस परिवार से आने के बावजूद, राय ने 1996 में भाजपा के साथ अपना राजनीतिक करियर शुरू किया और 2009 तक पार्टी के साथ रहे।

विशेष रूप से, उनके छोटे भाई अवधेश राय पूर्वी यूपी में एक प्रमुख कांग्रेस नेता थे, जबकि उनके चाचा श्री नारायण राय 1969-70 में वाराणसी कांग्रेस के जिला अध्यक्ष के रूप में कार्यरत थे। भाजपा नेताओं से असहमति के बाद, अजय राय 2009 में समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए, लेकिन बाद में उन्होंने कांग्रेस के प्रति अपनी निष्ठा बदल ली।

उनके वर्तमान पद संभालने से पहले, कांग्रेस ने पिछले साल पूर्वी क्षेत्र के लिए अजय राय को जोनल पार्टी अध्यक्ष नियुक्त किया था। उन पर पूर्वी यूपी के 16 जिलों में संगठनात्मक मामलों की देखरेख की जिम्मेदारी थी। गांधी परिवार के साथ घनिष्ठ संबंध के लिए जाने जाने वाले अजय राय भूमिहार ब्राह्मण समुदाय से हैं, जो मुख्य रूप से यूपी के पूर्वी हिस्से में स्थित है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles